घर आजा परदेसी !!

img_6408

My evergreen fav song is

उड़ जा काले कावा तेरे मुँह विच खंड पावा, 

ले जा तू संदेशा मेरा मैं सदके जावा, 

बाग़ों में फिर झूले पड़ गए , पक गयी मीठी आमिया, 

यह छोटी सी ज़िंदगी और राता लंबिया लंबिया, 

घर आजा परदेसी, तेरी मेरी एक ज़िंदादि!!”

Song with a meaning of life which we are missing somewhere in today’s life!!!

I have written a small poem dedicating to all who want to come back & enjoy life what they are really missing.

वो भाग रहा था , थक गया था
ज़िंदगी में कुछ पाना था,
पर पीछे बहुत कुछ छूट गया था !

उसकी ख़्वाहिशों को पंख मिले थे
उड़ने की एक उमीद मिली थी ,
पर जाने सब पाने के बाद भी
वो उड़ते उड़ते आँसू की बारिश में भीग रहा था !
उसके अंदर कुछ टूट रहा था,
पर पीछे बहुत कुछ छूट रहा था !
इतना ऊँचा मत उड़ जाओ
की लौट पंछी घर ना आ पाओ,
चलो एक बार फिर जीते है ,
एक बार फिर उस घोंसले पे चलते है ,
बैठ वहाँ दोस्तों से गप्पें लड़ाए,
बच्चों के संग खेले और माँ बाप को फिर हँसायें,
चलो एक बार फिर जीते है,
हरे भरे पत्तों में फिर एक आशियाँ सजाते है,
दूर ना जाए ख़ुशियों को ढूँढते,
इस बार ख़ुशियों को अपने घर नौता देते है !!

©Ruchie2016

This post is written under  Indispire#DiscoverLife prompt.

Conneting this post to WriteTribe #FridayReflections under prompt “ Use the lyrics of your favourite song as the basis of a short story or a post”

fridayreflections-button

I am taking my Alexa rank #MyFriendAlexa to the next level with Blogchatter for#GivingLife

Thanks for reading this post .. do forget to give valueable comments and suggestions.
Vote For Me @ The Top Mommy Blogs Directory

Remember sharing knowledge is gaining knowledge so, don’t forget to share.

Tweet: Poem connects http://ctt.ec/cb4ec+ #MyFriendAlexa #GivingLife

12 thoughts on “घर आजा परदेसी !!

  1. Pingback: घर आजा परदेसी !! | jmathur

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s